{2023} Bdo Full Form in Hindi ।। Bdo Kaise Bane in Hindi।।

अगर आप भी बीडीओ एग्जाम की तैयारी कर रहे है और आप भी एक बीडीओ अधिकारी बनना चाहते है। तो आज हम इस आर्टिकल मैं जानेंगे कि vdo full form in hindi, bdo kaise bane in hindi, BDO ऑफिसर कैसे बनें?, bdo full form salary, Bdo exam pattern, बीडीओ के लिए आयु सीमा तथा, बी.डी.ओ के लिए योग्यता, बीडीओ अधिकारी के कार्य ये सब हम इस आर्टिकल मैं जानेंगे।

 

बीडीओ क्या है? BDO kya hai?

 

बीडीओ एक अधिकारी लेवल कि पोस्ट होती है। जो राज्य सरकार के अधीन कार्य करता है। तथा यह किसी क्षेत्र या खंड के अधिकारी होते है। जो क्षेत्र मैं विकास करने का कार्य करता है। इसीलिए इसे विकास अधिकारी भी कहते है। क्योंकि वह जिस क्षेत्र का अधिकारी होता है। वहा की समस्त गतिविधियों तथा वहा के विकास का पूरा ध्यान रखना बीडीओ का कार्य होता है।

प्रत्येक छात्र का सपना होता है कि वह एक अच्छे पद पर नौकरी करे। जिससे उसके मान सम्मान मैं वृद्धि हो। अगर आप अपने माता पिता का हर सपना पूरा करना चाहते है। तो आपको बीडीओ की तैयारी अवश्य करनी चाहिए।

bdo full form in hindi – बीडीओ की फुलफॉर्म क्या है?

दोस्तो जैसे हमने ऊपर बताया की बीडीओ एक विकास अधिकारी होता है किसी क्षेत्र का तो उसी के अनुरूप इसकी फुलफॉर्म भी है। दोस्तो बीडीओ की फुलफॉर्म bdo full form – Block Development Officer होती है। तथा हिंदी मैं बीडीओ की फूल फॉर्म खंड विकास अधिकार कहते है।

 

बीडीओ की योग्यता क्या है? BDO ki eligibility kya kai?

दोस्तो अगर आप बीडीओ बनने का सपना देख रहे है। तो आपको निम्न योग्यता चाहिए।

  • हाईस्कूल पास होना चाहिए कोई न्यूनतम अंक नही है सिर्फ पास होना चाहिए।
  • इंटरमीडिएट भी आपको पास करना होगा। इसमें भी आपको कोई न्यूनतम की सीमा नही है। सिर्फ पास होना जरूरी है।
  • स्नातक आपको पास होना चाहिए। इसके बिना आप इस परीक्षा का फॉर्म नही भर सकते है। इसमें भी आपको सिर्फ पास होना जरूरी है। कोई न्यूनतम सीमा नही है।

 

बीडीओ की आयु सीमा क्या है? BDO age limit kya hai?

बीडीओ एग्जाम देने के लिए न्यूनतम तथा अधिकतम सीमा रखी गई है। इसके लिए आपकी उम्र कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिए। इससे कम उम्र वाले परीक्षा का फॉर्म नही भर पाएंगे। तथा Block Development Officer के लिए अधिकतम आयु 40 वर्ष निर्धारित की गई है। इससे अगर आपकी उम्र अधिक होती है। तो भी आप इस परीक्षा का फॉर्म नही भर पाएंगे।

अगर आप किसी रिजर्व कैटेगरी से आते है। तो आपको उम्र की सीमा मैं छूट दी जाती है। Bdo full form ऑफिसर के एग्जाम के लिए ओबीसी( obc) कैटेगरी के छात्रों के लिए 3 वर्ष की छूट प्रदान के गई है। अगर आप एससी या एसटी कैटेगरी से आते है। तो आपके लिए 5 वर्ष की छूट दी जाती है।

बीडीओ अधिकारी के कार्य क्या होता है? bdo officer work profile kya है?

दोस्तो अगर हम किसी भी एग्जाम की तैयारी करते है। तो सबसे पहले हर छात्र ये जानना चाहता है। कि आखिर बीडीओ बनने के बाद बीडीओ अधिकारी के कार्य क्या क्या होते है?

  • राज्य सरकार की योजनाओं को ग्रामों तथा क्षेत्रों तक पहुंचाना बीडीओ का कार्य होता है।
  • समाज कल्याणकारी योजनाओं जैस – वृद्धा पेंशन, disabled peoples’ पेंशन स्कीम MNREGA स्कीम आदि योजनाओं का सुचारू रूप से चलाना।
  • बीडीओ का कार्य किसी क्षेत्र विशेष मैं नए उद्योग तथा नलकूप या सड़क बनवाना आदि कार्य करता है।
  • बीडीओ का कार्य वर्तमान मैं चल रही तथा भविष्य मैं नई योजनाओं को लागू करना या उनकी देखरेख करना की उन योजनाओं का कार्यांवन भली प्रकार हो रहा है या नहीं। तथा इन कार्यों को समय पर पूरा किया जा रहा है या नहीं इनकी सख्ती से निगरानी करता है।
  • बीडीओ पंचायत समितियों के फंड का पैसा ग्राम पंचायतों को कितना पैसा कहा देना है। इन सबकी जानकारी बीडीओ अधिकारी के पास होती है। तथा अगर इस पैसे का दुरपयोग अगर कोई करता है। तो बीडीओ अधिकारी उसके खिलाफ सख्त करवाई भी कर सकता है।

बीडीके का एग्जाम पैटर्न क्या है? Bdo exam pattern kya hai?

दोस्तो आपने अब तक जाना कि bdo full form in hindi bdo kaise bane in hindi और अब हम जान लेते है। कि बीडीओ का एग्जाम पैटर्न क्या है। दोस्तो अगर इस परीक्षा की तैयारी शुरू कर रहे है। तो आपको पता होना चाहिए की यह परीक्षा ऑफलाइन माध्यम से ली जाती है। तथा ये परीक्षा लिखित परीक्षा होती है। इस परीक्षा मैं तीन स्तर होते है।

1 प्रारंभिक परीक्षा – preliminary test

दोस्तो ये परीक्षा लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित होती है। इससे हर वर्ष कराया जाता है। इस परीक्षा मैं 2 पेपर होते है। और दोनो पेपर दो घंटे के समयावधि के होते है।

  • पहला पेपर 200 अंको का होता है। जिसमे कुल 150 प्रश्न पूछे जाते है। जिसमे जनरल नॉलेज के क्वेश्चन पूछे जाते है।
  • दूसरा पेपर भी 200 अंको का होता है। जिसमे 100 प्रश्न पूछे जाते है। इसमें सीएसटी से संबंधित प्रश्न पूछे जाते है।

पेपर 1 – जनरल स्टडीज I 150 प्रश्न 200 अंक 2 घंटा

पेपर 2 – जनरल स्टडीज II (CSAT) 100 प्रश्न 200 अंक 2 घंटा

प्रारंभिक परीक्षा – पेपर 1 syllabus

देश और विदेश की घटनाएं, पंचायती राज, विश्व का भूगोल तथा इतिहास , आर्थिक और सामाजिक विकास-सतत विकास, भारतीय राजनीति, प्रशासन, जैव-विविधता, वर्त्तमान की घटनाएं, राजनीतिक प्रणाली से प्रश्न, सार्वजनिक नीति, गरीबी, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र की पहल,पर्यावरण पारिस्थितिकी, रोजगार

प्रारंभिक परीक्षा – पेपर 2 syllabus

  • हाईस्कूल लेवल की हिंदी
  • हाईस्कूल लेवल की गणित
  • मानसिक क्षमता से सम्बंधित प्रश्न
  • हाई स्कूल लेवल की अंग्रेजी
  • समस्याओ को सुलझाना तथा निर्णय
  • तर्क और विश्लेषणात्मक क्षमता

2 – मुख्य परीक्षा – Main Exam

दोस्तो जब आप प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते है। उसके बाद आपको मुख्य परीक्षा की तैयारी करनी होती है। इसके लिए छात्र दिन रात पढ़ाई करते है। जिससे उनका नाम इंटरव्यू की लिस्ट मैं आ सके। दोस्तो अगर आप भी इस परीक्षा को पास करना चाहते है। तो आपको इसके लिए बहुत कठिन परिश्रम की अवश्यकता होगी।

मुख्य परीक्षा लिखित परीक्षा होती है। इसमें आपको लिखकर उत्तर देने होते है। मुख्य परीक्षा मैं कुल 8 पेपर होते है। जिसमे 2 पेपर आपने एग्जाम फॉर्म भरते समय चुन सकते है। जिससे आप इन 2 पेपर मैं बाकी और पेपर से अधिक नंबर ला सके।

  1. जनरल हिंदी – 150 प्रश्न।      3 घंटे
  2. निबंध लेखन – 150 प्रश्न।             3 घंटे
  3. जनरल स्टडीज – I 200 प्रश्न          3 घंटे
  4. जनरल स्टडीज– II 200 प्रश्न.         3 घंटे
  5. जनरल स्टडीज – III। 200 प्रश्न      3घंटे
  6. जनरल स्टडीज – IV 200 प्रश्न.        3 घंटे
  7. ऑप्शनल विषय – PaperI 200 प्रश्न  3 घंटे
  8. ऑप्शनल विषय– Paper II 200     3 घंटे

 

 

3 – इंटरव्यू – interview

 

अगर आप प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा पास कर लेते है। तब इंटरव्यू की परीक्षा होती है। इसमें अधिकारियों के समक्ष आप बैठकर उनके प्रश्नों का जवाब देते है। जिसके आधार पर आपकी परफॉर्मेंस चेक की जाती है। जिसके बाद आपको अंक प्रदान किए जाते है। दोस्तो ये परीक्षा 100 अंको की होती है। अगर आप इस परीक्षा को पास कर लेते है। उसके बाद आपकी फाइनल मेरिट बनती है। जिसके बाद आपका सिलेक्शन हो जाता है।

bdo full form salary – bdo सैलरी क्या है?

बीडीओ की सैलरी राज्यों पर निर्भर करती है. क्योंकि हर स्टेट मैं सैलरी का स्ट्रक्चर अलग हो सकता है। फिर भी एक औसतन सैलरी 9 हजार से लेकर 35 हजार तक हो सकती है।

निष्कर्ष – conclusion

आपको हमारी पोस्ट  Bdo kaise bane in hindi कैसी लगी। हमे कॉमेंट कर जरूर बताएं। आशा करता हूं आपको हमारी पोस्ट bdo full form bdo kaise bane in hindi अच्छी तरह समझ आई होगी। अगर आपको इस पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न या सुझाव हो तो आप हमे कॉमेंट कर सकते है।bdo full form ।। Bdo kaise bane in hindi।।

You Also Read this You Also Read this 

Leave a Comment

Index